Want to contribute? Submit your content

Maths Teacher aur Haryanvi Chhora

मैथ टीचर ने बच्चे से सवाल पूछा :- मान लो तुम्हारी भैंस ने दूध नही दिया और तुम्हे घर आए मेहमानों को चाय पिलानी है तो क्या करोगे … ?

बच्चा बोला … जी बजार से दूध ले आंउगा …

टीचर ( मुस्कुराते हुए ) :-
वैरी गुड, अच्छा मान लो घर की भैंस का दूध पड़ता है बियालिस रुपये किलो,
और बजार से मिलता है साड्डे बावन रुपये किलो … तुमने दूध लिया डेढ़ पाव ,
और दूध वाले नें उसमें पैंसठ ग्राम पानी मिला रखा था …
तो बताओ तुम्हे कुल कितना नुक्सान हुआ … ?

जवाब ना देने पर मास्टर ने उस बच्चे को धूप में मुर्गा बना दिया …

अब दूसरे छात्र से वही सवाल पूछा …

छात्र बोला जी अपणे ताऊ के घर तै दूध लिआऊंगा …

टीचर बोला :- मान लो उनके घर भी दूध नही है तो …

छात्र :- जी पड़ोस आली चाची तै दूध मांग लूंगा …

टीचर चिढ़ के :- अगर उनके घर भी ना मिला तो …

छात्र :-
मास्टर जी सारे गाम मैं हांड जाउंगा दूध मांगण खातर ,
ना मिलया तो मेहमाना तै नींबू पाणी प्या दूंगा …
पर बजार तै मोल कोनी ल्यांऊ … मन्नैं धूप मैं मुर्गा ना बणना!!